चंडीगढ़: केंद्र सरकार से बातचीत के बीच किसानों ने आज दिल्ली कूच का आह्वान किया है।

0
Spread the love

चंडीगढ़: केंद्र सरकार से बातचीत के बीच किसानों ने आज दिल्ली कूच का आह्वान किया है।

किसानों का दिल्ली कूच करने की घोषणा के तहत संयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनीतिक) के नेता और सदस्य मंगलवार सुबह से ही शंभू और खनौरी बॉर्डर पर रणनीति बनाने में जुट गए।

 

संयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनीतिक) के सिद्धूपुर गुट की ओर से दिल्ली कूच के आह्वान पर हरियाणा से सटे शंभू और खनौरी बॉर्डर पर दिनभर स्थिति तनावपूर्ण बनी रही। जिला प्रशासन ने किसानों की केंद्रीय मंत्रियों के साथ बातचीत करवाई। इसके बीच ही किसान की मौत की खबर मिलने पर किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल ने कहा कि अब हालात का जायजा लेने के बाद ही वह आगे की रणनीति पर विचार करेंगे। किसान मजदूर संगठन के महासचिव सरवन सिंह पंढेर ने किसानों का दिल्ली कूच आंदोलन को दो दिन के लिए स्थगित करने की बात कही है।

अंबाला।* शंभू बार्डर पर 10वें दिन स्थिति सामान्य जरूर रही, लेकिन इससे पहले नौ दिन किसान संगठनों ने दिल्ली कूच को लेकर बैरिकेड्स को तोड़ने के लगातार प्रयास किए। *उपद्रवियों ने सरकारी व निजी संपत्ति को भी काफी नुकसान पहुंचाया। अब हरियाणा पुलिस नुकसान का आंकलन करवा रही है, जिससे इसकी भरपाई प्रदर्शनकारियों से की जा सके। इसके लिए पुलिस प्रदर्शनकारियों की संपत्ति कुर्क करने के साथ ही बैंक खातों को सीज करेगी।*

 

इसके अलावा किसान संगठनों के मुख्य पदाधिकारियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई करेगी। हरियाणा पुलिस के अनुसार दिल्ली कूच के लिए प्रदर्शन में कई किसान नेता सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। ये कानून व्यवस्था को बिगाड़ने का काम कर रहे हैं।

 

भड़काऊ व उकसाने वाले भाषण देकर इंटरनेट मीडिया के माध्यम से प्रचार किया जा रहा है। अपराधिक गतिविधियों को रोकने व कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए किसान संगठनों के ऐसे पदाधिकारियों को नजरबंद करने की कार्रवाई प्रशासन द्वारा अमल में लाई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed