कैंसर रोगियों की सेवा के 25 वर्ष पूरे होने पर 12वें मेरठ औकोकॉन 2024 का आयोजन मेरह के परित केसर एवं रोबोटिक सर्जन और मेरठ कैंसर अस्पताल के निदेशक डॉ. उमग मित्थल द्वारा किया जा रहा है।

0
Spread the love

इस वर्ष डॉ. उमंग मिन्चन द्वारा एमीर (NCR) और पश्चिम यूपी के केसर रोगियों के लिए समर्पित नेत्रा के 25 वर्ष पूरे हो गए हैं और इसी उपलक्ष्य में कैंसर के उपचार में नए युग की घोषणा करते हुए डॉ. उमग विश्वत द्वारा जव मेन्ड में ही रोयोतिक मर्जरी की उपलब्धता की घोषणा की गई है।

 

यह प्रेस कॉन्फ्रेंस 12वीं मेरठ बन्किोकॉन 2024 के बारे में विवरण देने के लिए आयोजित की गई है। इस वर्ष कन्प्रेिस में मेरठ की कई मेडिकल सोसायटी की भागीदारी है और सेड हीरालाल मिभन पैरिटेवल इस्ट और वैलेक्सी ऑन्कोलॉजी एसोसिएट्स द्वारा समर्पित है। इस वर्ष यह दो दिवसीय सम्मेलन है, और विपन है “कैंसर के प्रबंधन में रोबोटिक्स सहित सर्जिकल प्रक्रियामों में सटीक चिकित्सा और नवाचारों की भूमिका- फेफड़ों पर ध्यान पर जागरूकता और नवीनतम अपडेट देना है। डॉक्टरों और बाम

 

जन को स्तन, मुंह और डिम्बग्रंथि (Overy) कैंसर के बारे में जानकारी दी जाएगी।”

 

वरित कैंसर और रोबोटिक गर्जन और मेरठ कैंसर अस्पताल के निदेशक डॉ. उमंग मित्थन ने प्रेस कॉन्ग में वताया कि हमारा बाहार, जीवन शैत्री, पधिमीकरण और महत्वपूर्ण रूप से तंवा और नराव बादि विश्च स्तर पर कैंसर के महामारी करने के लिए जिम्मेदार हैं। भारत में ही कैंसर के 25-30 लाख मरीज है और हर साल लगभग 17-18 लाख नए कैंसर के मामले सामने आते हैं. जिनमें से हर साल 11-12 लाख मरीजों की मौत हो जाती है।

 

डॉ. उमंग मित्थन एवं मेड हीरालाल मिथन चैरिटेबल ट्रस्ट पिछले 15 वर्षों से इस फैसर सम्मेलन का आयोजन कर रहे हैं।

 

मेरठ ओन्कोकॉन का उद्देस्य काम जनता को केसर की रोकलाम और उपचार के बारे में जागरूक करना है और डॉक्टरों को कैमर के शीघ्र निदान और उपचार में हालिया प्रगति के बारे में अपडेट प्रदान करना है और पिछले 25 वचों में, उन्होंने इसे बढ़ाने के लिए विभित्र सीएमई और शिविरों का आयोजन किया है।

 

बेस्ट यूपी में जागरुकता और कैंसर के इलाज में सुधार हेतु नवीनतम जानकारी देने हेतु मेरठ बोकोन की श्रृंखला का यह 12 वो संस्करण है।

 

इस सम्मेलन में पूरे भारत में प्रतिष्ठित डॉक्टर भाग ले रहे है टाटा मेमोरियल अस्पताल मुंबई में डॉ. अमिता माहेधरी, एमजीबाग (SGRH) दिल्ली से डॉ. श्याम बवाल, एम्ब दिल्ली से डॉ. आजुनीष निथा, वाको रायपुर में ही भावना सिरोही और कई अन्य विशेषज्ञ संकाय अमृता, मैक्स, राजीव गांधी, फोर्टिन, दिल्ली और गी(NCR) के डॉक्टर और पुरे भारत में अन्य रिक्टर इस सम्मेजन में भाग लेंगे और निदान और उपचार की विनिमें करेंगे और सीखने साथ ही संबोधित करेंगे। आम जनता को इन कैंसर से बचाव के बारे में बताया जाएभाः

 

सम्मेलन का उद्घाटन मुख्य अतिमि डॉ. मंजू जिवाच (विधायक) द्वारा किया जाएगा और विशिष्ट अतिथि की हरीभा बहनुचानिया (मेयर) होगे, साथ ही संरक्षक मेड हीरामान पैरिटेबल इस्ट डॉ. एमपी विचत होंगे।

 

सम्मेलन में पूरे भारत में लगभग 250 टक्के भाग लेने की उम्मीद है।

बरिष्ठ कैंसर और रोबोटिक सर्जन डॉ. उमंग मिथल ने यह भी बताया कि कैसे उत्तर भारत के सबसे उन्नत कैंसर अस्पतालों में मे एक, “मेरठ कैंसर अस्पताल”, उनत कैंसर सर्जरी, लेप्रोस्कोपिक कैंसर सर्जरी, कीमोथेरेपी, जीन थेरेपी, इम्यूनोथैरेपी आदि सहित इन सबसे कैंसर से निपट रहा है। अव उन्होंने अपने रोगियों के लिए रोबोटिक कैंसर सर्जरी को भी शामिल कर लिया है, और दिल्ली और एनसीआर के सर्वोत्तम केंद्रों के सहयोग से पश्चिमी यूपी में सबसे उचित कीमत पर पेट सीटी (PET CT) स्कैन और नवीनतम रेडियोथेरेपी भी प्रदान कर रहे हैं। वह दिल्ली में एक तिहाई से भी कम लागत पर नवीनतम कैंसर उपचार देने में भी कामयाब रहे हैं। उन्होंने सेठ हीरालाल मित्थल चैरिटेबल ट्रस्ट के सहयोग से आयोजित विभिन्न कैंसर शिविर, कैंसर सीएमई (CME) और कैंसर सर्वाइवर फोरम के वारे में भी जानकारी दी, जो पिछले साल कैंसर के वारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित किए गए थे ताकि इस घातक बीमारी का शीघ्र निदान और उपचार किया जा सके

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *