मेरठ में बसपा, AIMIM के नेताओं में मारपीट, चली बोतलें : चुनाव हारे प्रत्याशी को चिढ़ा चिढ़ाकर जीत का जश्न मनाने पर बवाल ।

0
Spread the love

मेरठ में बसपा, AIMIM के नेताओं में मारपीट, चली बोतलें : चुनाव हारे प्रत्याशी को चिढ़ा चिढ़ाकर जीत का जश्न मनाने पर बवाल ।

 

मेरठ में रविवार को बसपा, AIMIM पार्टी के समर्थकों में आपस में मारपीट हो गई। चुनावी जीत का जश्न मनाने के चलते दोनों पार्टी के कार्यकर्ताओं में विवाद हुआ। बात इतनी बड़ी कि दोनों पक्षों ने एक दूसरे के साथ मारपीट कर दी। बोतलों, लाठीडंडों से पिटाई कर दी। दुकानों में तोड़फोड़ भी कर दी। बवाल में 3 लोग घायल हैं। मौके से पुलिस ने 3 लोगों को हिरासत में लिया है पुलिस की तरफ से दोनों पक्षों पर मुकदमा लिखा जा रहा है।

हारे प्रत्याशी की दुकान के बाहर मनाया जीत का जश्न ।

मेरठ में शनिवार 13 मई को निकाय चुनाव के नतीजे आते ही बवाल और विवाद की घटनाएं शुरू हो गई हैं। रविवार को जलीकोठी में दो पक्षों के बीच जमकर बवाल हुआ। वार्ड 74 से AIMIM के प्रत्याशी हसीन और बसपा प्रतयाशी तुफैल ने चुनाव लड़ा था। हसीन ने 7 वोटों के अंतर से जीत दर्ज कराई। हसीन के समर्थक इरफान और दूसरे लोग रविवार को जलीकोठी पर जीत का जश्न मना रहा थे । मस्ती के मूड में विजेता के समर्थक बसपा के हारे प्रत्याशी तुफैल मलिक की दुकान के बाहर पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया । तुफैल उसके लोगों ने मना किया तो भी हसीन समर्थक नहीं माने। दोनों पक्षों में झगड़ा शुरू हो गया।

 

दो थानों की पुलिस मौके पर पहुंची ।

 

दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर बोतलें चलाई। लाठीडंडों से मारपीट, पथराव और गालीगलौज शुरू कर दी। आधे घंटे तक बवाल चलता रहा। सूचना पर सदर और देहली गेट थाना पुलिस मौके पर पहुंची। दोनों पक्षों को शांत कराया। बवाल में दोनों पक्षों से 3 लोग घायल है। घायलों में इरफान का बेटा अरशान व अन्य 2 लोग हैं। पुलिस ने मौके से तीनों को हिरासत में ले लिया है। इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इरफान रहा है विवादित ।

जलीकोठी व्यापार संघ के अध्यक्ष ने मामले को संभालने की कोशिश भी की लेकिन उनके साथ भी अभद्रता की गई। जलीकोठी का प्रधान इरफान पहले भी सुर्खियों में रहा है लेकिन देहलीगेट थाना पुलिस कोई भी कड़ी कार्रवाई इरफान प्रधान पर नहीं करती। जिसका नतीजा देखने को मिला कि चुनाव में जीत होने के बाद जीतने वाले प्रत्याशी को जश्न मनाने के लिए हारे प्रत्याशी की दुकान के बाहर ले जाया गया। मामला इतना बिगड़ गया कि दोनों तरफ से पथराव और लाठी-डंडे चले जिसमें कई लोग चोटिल भी हो गए । पथराव का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया।

 

मतगणना के बाद भी हुआ था झगड़ा बताया जा रहा है कि शनिवार को मतगणना के बाद इरफान प्रधान के लड़कों ने तुफैल के समर्थकों पर कटाक्ष कर झगड़ा किया था। तब पुलिस ने 2 लोगों को हिरासत में लेकर 151 में चालान कर दिया। आज भी इरफान के लड़के अरशान ने गालीगलौज कर दिया। इसी को लेकर विवाद हुआ। सीओ अमित राय ने बताया कि दोनों पक्षों में हारजीत के जश्न के बाद शुरू हुआ विवाद जो बाद में पथराव में बदला गया पुलिस ने दोनो पक्षों की तरफ से कई लोगो को हिरासत में ले लिया और मुकद्दमा दर्ज कर दिया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *