समलैंगिक विवाह को कानूनी मान्यता की मांग, SC में होगी सुनवाई

0
Spread the love

समलैंगिक विवाह को कानूनी मान्यता की मांग, SC में होगी सुनवाई

 

भारत में समलैंगिक विवाहों को कानूनी मान्यता दिए जाने की मांग से जुड़ी याचिकाओं पर SC की 5 सदस्यीय संविधान पीठ 18 अप्रैल से सुनवाई करेगी। SC ने इससे पहले 13 मार्च को इन याचिकाओं को 5 जजों की संविधान पीठ के पास भेज दिया था और कहा था कि यह मुद्दा ‘बुनियादी महत्व’ का है। केंद्र ने इन याचिकाओं का विरोध कर कहा है कि यह ‘पूर्ण विनाशकारी’ साबित होगा। उधर जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने भी इसका विरोध किया है।

Demand for legal recognition of gay marriage, hearing will be held in SC

 

A 5-member constitution bench of the SC will hear from April 18 the petitions related to the demand for legal recognition of same-sex marriages in India. The SC had earlier on March 13 referred these petitions to a 5-judge constitution bench, saying the issue was of ‘fundamental importance’. The Center has opposed these petitions saying that it will prove to be ‘absolutely disastrous’. On the other hand, Jamiat Ulema-e-Hind has also opposed it.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *